भारत में सार्वजनिक और निजी बैंकों के नवीनतम वेतन ढांचे- Latest Salary Structure of Public and Private Banks in India in Hindi

3
6075

बैंक परीक्षा के उम्मीदवारों के लिए वेतन हमेशा एक अहम मुद्दा होता है। आम तौर पर यह जानकारी बहुत ही स्पष्ट तरीके से उपलब्ध नही होती। जिसके अभाव में उम्मीदवार सही नौकरी का चयन नही कर पाते। आज का हमारा लेख सार्वजनिक और निजी बैंकों के नवीनतम वेतन ढांचे से संबंधित है। जिसमे हम आपको बतायेगे कि किस बैंक के किस पद पर कितना वेतन हैं, जिससे आप अपने व्यवसाय का चयन सरलता से कर सकेगे।

अलग-अलग बैंको द्वारा दिए जाने वाले वेतन को समझने से पहले, आपको वेतन से जुड़े सभी चरणों को समझने की ज़रूरत हैं।

  1. मूल वेतन: मूल वेतन ,वेतन का सबसे महत्वपूर्ण घटक है।मूल वेतन, वेतन सबसे पहला भाग है,जो कोई भी संगठन अपने कर्मचारी को देता है।दिए जाने वाले वेतन के सभी हिस्सों में से यह सबसे अधिक होता हैं, जो कि आयकर अधिनियम की धारा 17 के तहत कर योग्य है। ईपीएफ (कर्मचारी भविष्य निधि) और एचआरए मूल वेतन से जुडे होते हैं।
  2. भत्ते:अतिरिक्त खर्च को कवर करने के लिए वेतन में भत्ते दिए जाते हैं। ये मूल वेतन के प्रतिशत के रूप में दिया जाता है।बैंकों और अन्य सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के लिए भत्ते का सबसे आम प्रकार नीचे सूचीबद्ध हैं:

(क) महंगाई भत्ता (डीए)  : यह समायोजन भत्ता सरकार और सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों (पीएसयू) को दिया जाता हैं। मंहगाई बढने के कारण दैनिक जीवन में वित्तीय सामंजस्य बनाये रखने के लिए यह दिया जाता है।बैंकिंग विभाग द्वारा इसे हर तीन महीने में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के अनुसार नवीकृत किया जाता हैं। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) के आधार पर ही महंगाई भत्ता निर्धारित किया जाता हैं।

(ख) मकान किराया भत्ता (एचआरए)  : मकान किराया भत्ता आवास के खर्चों को पूरा करने के लिए कर्मचारी को दिया जाता है। आयकर अधिनियम की धारा 10 के (13A)  और नियम 2 ए के अनुसार, कर्मचारी को एचआरए पर कर भुगतान से छूट दी गई है।

  • वास्तविक घर किराया का भुगतान ऋण (मूल वेतन का 10%  + डीए)
  • यदि एक मेट्रो (दिल्ली, मुंबई, कोलकाता या चेन्नई) सिटी में रहते हैं, तो मूल वेतन का  50 %
  • या फिर मूल वेतन का 40%

(ग) विशेष भत्ता  : यह भत्ता प्रदर्शन बोनस के रूप में जाना जाता है। यह भत्ता मूल वेतन से अलग दिया जाता हैं।

 (घ) सीसीए  : यह शहर प्रतिपूरक भत्ता है। यह महंगे शहर में जीवन यापन की लागत को कवर करने के लिए दिया जाता है।

(ई) वाहन भत्ता:  यह घर और दफ्तर के बीच आने-जाने के खर्चे के बीच सामंजस्य बनाये रखने के लिए दिया जाता है।

विभिन्न बैंको द्वारा दिए जाने वाले वेतन इस प्रकार हैं –

  1. आईबीपीएस पीओ  : विभिन्न राष्ट्रीयकृत बैंकों / अन्य बैंकों और वित्तीय संस्थानों में परिवीक्षाधीन अधिकारी / मैनेजमेंट ट्रेनी  के पद भर्ती के लिए यह परीक्षा आयोजित की जाती हैं। हर साल 10 लाख से अधिक छात्र इस परीक्षा को देते है। यह देश की सबसे बड़ी भर्ती परीक्षाओं में से एक भी हैं। एक नव चयनित परिवीक्षाधीन अधिकारी को स्केल I के अनुसार वेतन दिया जाता हैं। जिसकी निम्नलिखित संरचना इस प्रकार हैं-
  • मूल वेतन: पीओ के पद के लिए मूल वेतन शहर की नियुक्ति के हिसाब से ही दी जाती है है। 1 जून 2015  के अनुसार इस पद के लिए मूल वेतन -23700 रूपए  हैं।
  • महंगाई भत्ता (डीए): सरकार द्वारा जारी की गई नवीनतम उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के अनुसार इस पद के लिए डीए राशि –  8,605.88  रूपए है।
  • एचआरए: यह भर्ती के स्थान पर निर्भर करता है। इस पद के लिए एचआरए भुगतान दर  9.0% या 8.0% या 7.0%  हैं।
  • सीसीए: यह भर्ती के स्थान पर निर्भर करता है। इस पद के लिए सीसीए भुगतान दर 4%, 3% या 0%  होता है।
  • विशेष भत्ता: स्केल I के अनुसार विशेष भत्ता भुगतान दर 7.75% हैं।
  • अनुलाभ (वाहन, समाचार पत्र, मनोरंजन भत्ता, आवास और फर्नीचर रखरखाव आदि) – 4130 हैं।
  • आवास 29500 रुपये तक है।
  1. भारतीय स्टेट बैंक पीओ: यह परीक्षा परिवीक्षाधीन अधिकारी / स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजमेंट ट्रेनी के पद भर्ती के लिए आयोजित की जाती हैं। एक नव चयनित परिवीक्षाधीन/ मैनेजमेंट ट्रेनी अधिकारी को स्केल I के अलावा, अतिरिक्त लाभ के साथ वेतन दिया जाता हैं। जिसकी निम्नलिखित संरचना इस प्रकार हैं-
  • मूल वेतन: पीओ के पद के लिए मूल वेतन शहर की नियुक्ति के हिसाब से ही दी जाती है है। 1 जून 2015 के अनुसार इस पद का मूल वेतन 23700 रूपए हैं ।
  • महंगाई भत्ता (डीए): सरकार द्वारा जारी की गई नवीनतम उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के अनुसार इस पद के लिए डीए राशि –  8,605.88  रूपए है।
  • एचआरए: यह भर्ती के स्थान पर निर्भर करता है। इस पद के लिए एचआरए भुगतान दर 10 % या 8.0% या 7.0% है।
  • सीसीए: यह भर्ती के स्थान पर निर्भर करता है। इस पद के लिए सीसीए भुगतान  4%, 3% या 0%  है।
  • विशेष भत्ता: स्केल I के अनुसार विशेष भत्ता भुगतान दर 7.75% हैं।
  • अनुलाभ (वाहन, समाचार पत्र, मनोरंजन भत्ता, आवास और फर्नीचर रखरखाव आदि)- 4130)
  • आवास 29500 रुपये तक है।
  1. आईबीपीएस क्लर्क / एसबीआई क्लर्क: भारतीय स्टेट बैंक और आईबीपीएस क्लर्क सहायकों और स्टेनोग्राफर भर्ती परीक्षा भारतीय स्टेट बैंक और अन्य राष्ट्रीयकृत बैंकों और गैर बैंकिंग वित्तीय संस्थानों के विभिन्न पदों को भरने के लिए आयोजित की जाती हैं। जिसकी निम्नलिखित संरचना इस प्रकार हैं-
  • मूल वेतन: क्लर्क के पद के लिए मूल वेतन शहर की नियुक्ति के हिसाब से ही दी जाती है है। 1 जून 2015 से के अनुसार इस पद के लिए मूल वेतन- 11765 रूपए हैं ।
  • महंगाई भत्ता (डीए): सरकार द्वारा जारी की गई नवीनतम उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के अनुसार इस पद के लिए डीए राशि –  4272  रूपए है।
  • एचआरए: यह भर्ती के स्थान पर निर्भर करता है। इस पद के लिए एचआरए की भुगतान दर 10 % या 9.0% या 7.5% है।
  • सीसीए: यह भर्ती के स्थान पर निर्भर करता है। इस पद के लिए सीसीए की भुगतान दर 4%, 3% या 0% होती है।
  • विशेष भत्ता: इस पद के लिए विशेष भत्ता 911.79 रुपए  हैं।
  • परिवहन भत्ता : इस पद के लिए परिवहन भत्ता 425.00 रूपए हैं।
  1. आईबीपीएस आरआरबीएस: यह परीक्षा मध्य प्रबंधन ग्रेड अधिकारी(स्केल II), जूनियर प्रबंधन(स्केल I),संवर्ग और कार्यालय सहायक (बहुउद्देशीय), प्रबंधन ग्रेड (स्केल III), के अधिकारियों की भर्ती के लिए आयोजित की जाती हैं।

 

पद वेतनमान
अधिकारी स्केल III 42020-1310(5)-48570-1460(2)-51490
अधिकारी स्केल II 31705-1145(1)-32850-1310(10)-45950
अधिकारी स्केल I 23700-980(7)-30560-1145(2)-32850-1310(7)-42020
सहायक अधिकारी (एमपी) 11765-655(3)-13730-815(3)-16175-980(4)-20095-1145(7)-28110-2120(1)-30230-1310(1)-31540.

परिलब्धियां

पद वर्तमान समय में परिलब्धियां
अधिकारी स्केल III वर्तमान समय में परिलब्धियां(डीए और एचआरए मिलाकर) 64600
अधिकारी स्केल II वर्तमान समय में परिलब्धियां (डीए और एचआरए मिलाकर)  48800
अधिकारी स्केल I वर्तमान समय में परिलब्धियां (डीए और एचआरए मिलाकर)  36400
सहायक अधिकारी (एमपी) वर्तमान समय में परिलब्धियां (डीए और एचआरए मिलाकर)  18100

 

  1. भारतीय रिजर्व बैंक ग्रेड बी: इस परीक्षा को भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अधिकारियों की भर्ती के लिए आयोजित किया जाता है।
  • मूल वेतन: इस पद के लिए मूल वेतन- 21,000 रुपये है।
  • परिलब्धियां : महंगाई भत्ता, स्थानीय भत्ता, मकान किराया भत्ता, परिवार भत्ता और ग्रेड भत्ता प्रारंभिक मासिक परिलब्धियां सहित कुल वेतन – लगभग 53888 रुपए हैं।
  1. नाबार्ड अधिकारी परीक्षा: राष्ट्रीय कृषि बैंक और ग्रामीण विकास के लिए विभिन्न पदों के उम्मीदवारों की भर्ती के लिए यह परीक्षा का आयोजित की जाती है।

ग्रुप ए

क्र स० पद का नाम स्केल
i ग्रेड ‘ए’ में अधिकारी (सहायक/ प्रबंधक) (निजी सचिव अधिकारी सहित) 17100-1000(11)-28110-EB-1000(4)-32100-1100(1)-33200(17 वर्ष)
ii ग्रेड ‘बी’ में अधिकारी (प्रबंधक) 21000-1000(9)-30000-EB-1000(2)-32000-1100(4)-36400(16 वर्ष)
iii ग्रेड ‘सी’ में अधिकारी (सहायक जनरल मेनेजर) 28350-1000(5)-33350-1150(4)-37950- EB-1150(3)-41400(13 वर्ष)
iv ग्रेड ‘डी’ में अधिकारी (उप जनरल मेनेजर) 39850-1200(2)-42250-1300(3)-46150(6 वर्ष)
v ग्रेड ‘ई’ में अधिकारी (महाप्रबंधक) 42300-1300(3)-46200-1400(3)-50400-1600(1)-52000(8 वर्ष)
vi ग्रेड ‘एफ’ में अधिकारी (मुख्य महाप्रबंधक) 60600-1600(4)-67000(5 वर्ष)
vii कार्यकारी निदेशक 75100(1)-2000(2)-79100(3 वर्ष)
VIII सीनियर निजी सचिव और प्रधान निजी सचिव 21000-1000(9)-30000-EB-1000(2)-32000-1100(4)-36400-EB-400(1)-36800-1150(4)-41400(21 वर्ष)

ग्रुप बी

स्केल  INR 8040-410(3)-9270-500(4)-11270-550(4)-13470-650(3)-15420-720(1)-16140- 990(4)-20100(20 वर्ष)

ग्रुप सी

स्केल- INR 6350-220(4)-7230-260(3)-8010-300(3)-8910-400(2)-9710-500(4)-11710-680(3)-13750(20 वर्ष)

 

सरकारी नौकरी के लिए क्लिक करें