नवीनतम करंट अफेयर्स 9 मार्च 2016-Daily Current Affairs 9 March in Hindi

0
208

Sarkari Naukri -विश्व टेबल टेनिस चैंपियनशिप में भारतीय पुरुष और महिला टीम ने स्वर्ण पदक जीता,पूरे विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया,महिला उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए महिला ई-हाट आरंभ किया गया,स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के तीसरे संस्करण का खिताब पटना पाइरेट्स ने जीता,राज्यसभा में भारतीय मानक ब्यूरो विधेयक 2015 पारित किया गया.

विश्व टेबल टेनिस चैंपियनशिप में भारतीय पुरुष और महिला टीम ने स्वर्ण पदक जीता

विश्व टेबल टेनिस चैंपियनशिप में भारतीय पुरुष और महिला टीम ने स्वर्ण पदक जीता

  • 6 मार्च 2016 को कुआलालम्पुर में आयोजित विश्व टेबल टेनिस चैंपियनशिप की दूसरी डिवीजन में भारत की पुरुष और महिला टीमों ने स्वर्ण पदक जीता।
  • पुरुष टीम ने ब्राजील को 3-2 से हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया और भारतीय महिला टीम ने पहले लक्जमबर्ग को 3-1 से हराकर खिताब जीता।
  • मौमा दास ने महिला फाइनल में डेनियल कोंसब्रक को 3-0 से पराजित किया।
  • भारत को मणिका बत्रा ने टेसी गोंडरिंगर को 3-1 से पराजित कर 2-0 से आगे कर दिया।
  • मणिका ने डेनियल को 3-0 से हराकर भारत को जीत दिलाई।

पूरे विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया

रे विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया

  • 8 मार्च 2016 को विश्वभर में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया।
  • वर्ष 2016 के अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की थीम संयुक्त राष्ट्र ने “वर्ष 2030 तक 50-50: लैंगिक समानता के लिए क़दम” निर्धारित किया।
  • इसके अंतर्गत निम्नलिखित कार्य शामिल किए जायेगे जैसे- वर्ष 2030 तक सभी लड़कियों और लड़कों के लिए मुक्त, न्यायसंगत और गुणवत्तापूर्ण प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा सुनिश्चित करना।
  • सभी महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हर जगह भेदभाव के सभी रूपों का अंत करना।
  • तस्करी और यौन शोषण और अन्य प्रकार के सहित सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों में सभी महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हिंसा के सभी रूपों को समाप्त करना।

महिला उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए महिला ई-हाट आरंभ किया गया

महिला उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए महिला ई-हाट आरंभ किया गया

  • 7 मार्च 2016 को केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने ग्रामीण महिला कारोबारियों को बढ़ावा देने के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म ‘महिला-ई-हाट’ का शुभारंभ किया।
  • इसके द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली महिलाओं को प्रोत्साहन मिलेगा।
  • इस ऑनलाइन प्लेटफार्म का मुख्य उद्देश्य छोटे महिला कारोबारियों और कामगारों को सशक्त बनाना है और साथ ही उन्हें एक प्लेटफ़ॉर्म देना हैं।
  • इस प्लेटफार्म पर महिला कारोबारी और कलाकार कुछ भी बेच सकती हैं।
  • इसकी सूची में खानपान और रहन-सहन से संबंधित उपकरण, घरेलू सामान, खिलौना और परिधान शामिल हैं।
  • इस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन के लिए महिला उद्यमियों को ऑनलाइन सूचना भरनी होगी या ई-मेल, पत्र के जरिए आवश्यक प्रारूप में सूचना देनी होगी और इसके बाद मध्यस्थ व्यक्ति उत्पादों का चुनाव कर उसे वेबसाइट पर प्रदर्शित करेगा और इसकी सूचना वेंडर को देगा।
  • विक्रेता अपने विवेक से उत्पाद का मूल्य तय कर सकता है।

स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के तीसरे संस्करण का खिताब पटना पाइरेट्स ने जीता

र स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के तीसरे संस्करण का खिताब पटना पाइरेट्स ने जीता

  •    6 मार्च 2016 को पटना पाइरेट्स ने स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी लीग के तीसरे संस्करण का खिताब जीता।
  • पटना पाइरेट्स ने दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में यू मुंबा को 31-28  से हराया।
  • पटना पाइरेट्स को विजेता के रुप में 1 करोड़ रुपये की इनामी राशि दी गई।
  • यू मुंबा को उपविजेता के रूप में 50 लाख रूपये की राशि से प्रदान की गई।
  •  बंगाल वारियर्स को पुनेरी पल्टन ने 31-27 से हराकर तीसरा स्थान प्राप्त किया।
  • पुणे टीम को 30 लाख रुपए और बंगाल टीम को 20 लाख रुपए की राशि दी गई।
  •    वर्ष 2016 सत्र के सर्वश्रेष्ठ रेडर सम्मान के लिए यू मुंबा के रिशंक देवाडिगा को चुना गया।

राज्यसभा में भारतीय मानक ब्यूरो विधेयक 2015 पारित किया गया

राज्यसभा

  • 8 मार्च 2016 को राज्यसभा में भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) विधेयक, 2015 पारित किया गया।
  • यह विधेयक वर्तमान बीआईएस अधिनियम-1986 का स्थान लेगा, जिसमें उत्पादों को अनिवार्य मानक व्यवस्था के तहत लाने सहित विभिन्न प्रावधान होंगे।
  •   इस विधेयक में स्वास्थ्य, पर्यावरण, आदि से बचाव के लिए अनिवार्य प्रमाणन का प्रावधान किया गया।
  •   वस्तु, प्रसंस्करण, पद्धति और सेवाओं के मानकीकरण, एकरूपता निर्धारण और गुणवत्ता सुनिश्चित करने एवं विकास जैसे कार्यो के लिए एक राष्ट्रीय मानक निकाय स्थापित करने का प्रावधान है।
  •   यह विधेयक इससे पहले 3 दिसंबर, 2015 को लोक सभा में पारित  किया गया था।