बैंकिंग परीक्षा के कॉमन साक्षात्कार का सामना कैसे करें- How to Prepare for Bank Exam Common Interview

0
237

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में रोजगार प्राप्त करने के लिए क्वालिफाइड अभ्यर्थियों को साक्षात्कार-बोर्ड्स का सामना करना होता है। शुरू में प्रत्येक अभ्यर्थी को घबराहट होती है, जिससे अंतत: उसका निष्पादन प्रभावित होता है ।आज हम घबराहट कम करने और साक्षात्कार-सत्रों में अच्छा निष्पादन करने के लिए यहाँ कुछ उपाय और दिशानिर्देश देगे जिससे आप पूरे आत्मविश्वास के साथ साक्षात्कार दे सकें।

साक्षात्कार 
साक्षात्कार अभ्यर्थी और साक्षात्कार लेने वाले के बीच आमने-सामने की अंत:क्रिया (इंटर-एक्शन) होती है। यह अभ्यर्थी के सूक्ष्म गुणों का आकलन करने में बहुत उपयोगी होता है।यह अभ्यर्थी की पहल करने की क्षमताओं, मानसिक जागरूकता, आत्मविश्वास आदि का पता लगाने में सहायता करता है।

पहला प्रभाव 
साक्षात्कार देने वाले का सबसे महत्त्वपूर्ण भाग है उसका व्यक्तित्व और व्यवहार होता है। निम्नलिखित बातें  साक्षात्कार-बोर्ड के सदस्यों को प्रभावित करने में अभ्यर्थियों की सहायता करेंगी :

 

  • सादी और औपचारिक पोशाक
  • उपयुक्त मुद्रा में चलना और बैठना
  • सहज व्यवहार
  • साक्षात्कार-कक्ष में प्रवेश करते और उससे निकलते समय मुसकराना
  • बोलते समय साक्षात्कारकर्ता की ओर देखना
  • आमंत्रित किए जाने पर दृढ़ता और संक्षिप्तता के साथ हाथ मिलाना
  • स्पष्ट और सुनी जा सकने योग्य आवाज में बोलना
  • चर्चा के बिंदु पर टिके रहना  तर्कसंगत दृष्टिकोणइन

इन सब के अलावा आवेदको को सबसे ज्यादा परेशान करता है साक्षात्कार का अंग्रेज़ी भाषा में होना है ।हम ये जानते कि सभी आवेदको की अंग्रेज़ी भाषा पर पूरी पकड़ नही होती जिसके कारण कई बार उनकी परीक्षा का निष्पादन ख़राब हो जाता है।साक्षात्कार अंग्रेज़ी भाषा में देते हुए आप निम्न बातो का ध्यान रखे-

  • विषय और क्रिया संबंध – इसमे आपको ये ध्यान रखना चाहिए कि आप जिस भी वाक्य का प्रयोग करे वह व्याकरण की  दृष्टि से पूरी तरह सही हो जैसे अगर आप हिंदी में भाषा का प्रयोग करते समय मैंने खाना खाई नही बोल सकते क्योंकि ये व्याकरण की दृष्टि से यह गलत है इसका सही रूप होगा -मैने खाना खाया आपको इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा।
  • प्रवाह – ये ज़रूरी नही है कि आप वाक्यों को आप बहुत तेज़ी से बोले आप जिस भी वाक्य का प्रयोग करे आप उसे रुक रुक कर न बोले उसे प्रवाह के साथ बोले।
  • अवांछित बनावटी व्यवहार से बचना – अल्पभाषिक (बहुत थोड़े में) उत्तर देना यह ऐसा आभास देता है कि अभ्यर्थी को विषय का ठोस ज्ञान नहीं है। इतनी धीमी आवाज में उत्तर न दें, जिसे बोर्ड सुन ही न पाए क्योंकि इससे अप्रिय स्थिति पैदा होती है।
  • हाथ की अधिक चेष्टाओं से बचें – अभ्यर्थियों को सलाह दी जाती है कि वे हाथ से अधिक चेष्टाएँ करने से बचें, क्योंकि यह बोर्ड के सदस्यों के मन में बुरा प्रभाव पैदा करता है।
  • उच्चारण पर ध्यान दे– शब्दों का प्रयोग करते समय उनका उच्चारण सही रूप से करे।
  • उचित शब्दों का प्रयोग करे – वाक्यों में सही और उचित शब्दों का प्रयोग करे।
  • शब्दभंडारण बढाए -अपने शब्दभंडारण में वृद्धि करने के लिए आप प्रतिदिन द हिन्दू अखबार को पढ़े
  • चर्चा के बिंदु को समझे – चर्चा करते समय इस बात का ध्यान रखे कि आप के उत्तर चर्चा से हट के न हो
  • बोलते समय साक्षात्कारकर्ता की ओर देखना चाहिए।
  • bbc चेनल की खबरों को प्रतिदिन सुने ताकि आप अपने शब्द उच्चारण में सुधार कर सके।

अगर आप दी गई सभी टिप्स का पालन करे तो आप साक्षात्कार में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते।