नवीनतम करंट अफेयर्स 2 अप्रैल 2016-Daily Current Affairs 2 April in Hindi

0
282

Sarkari Naukri – साहित्य अकादमी पुरस्कारों की घोषणा, अरुण जेटली ने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री टर्नबुल से की मुलाकात, व्यापार पर हुई चर्चा, उत्तराखंड के देवस्थल पर स्थित आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान शोध संस्थान (एरीस) के दूरबीन को भारत एवं बेल्जियम के प्रधानमंत्री ने रिमोट का बटन दबाकर एक्टीवेट किया, नए नियमों के तहत भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने किया उधारी-दरों का निर्धारण

1) साहित्य अकादमी पुरस्कारों की घोषणा:

विवरण:Latest Current Affairs Today – 31st March 2016

कर्नाटक साहित्य अकादमी ने 2013 में प्रकाशित कार्यों के लिए पुरस्कारों की घोषणा की।

रजनी नरहल्ली को उनके उपन्यास (आत्मावृतांत), एम.एस. श्रीराम को उनकी लघु-कथाओं के संकलन ‘सलमान खनाना डिफिकल्टटीसू” एवं सुब्बू होलियर कोउनके कविता-संग्रह “एललरा बेरलल्लू अन्तिकोंडा ढुखावे..” के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार दिया गया।

के. वाई. नारायणस्वामी को उनके प्रसिद्ध नाटक ‘अनाभिग्न शकुंतला’ और कुप्पे नागराज को आत्मकथा “अलेमेरिया अंतरंगा” के लिए साहित्य अकादमीपुरस्कार से नवाजा गया।

2) अरुण जेटली ने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री टर्नबुल से की मुलाकात, व्यापार पर हुई चर्चा:
 
विवरण:
Latest Current Affairs Today – 31st March 2016
भारतीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल से मुलाकात की। उन्होंने भारतीय अर्थव्यवस्था की 7.6 फीसदी की मौजूदा दर से अधिक वृद्धि दर्ज करने की क्षमता और दोनों देशों के बीच बेहतर आर्थिक आदान-प्रदान की गुंजाइश का जिक्र किया।
कैनबरा में बैठक के दौरान, टर्नबुल ने भारत को नवीकरणीय उर्जा क्षेत्र, जिसमें ऑस्ट्रेलिया को विशेषज्ञता हासिल है, में सहयोग प्रदान करने की इच्छा जाहिर की।
जेटली ने टर्नबुल को भारत आने का भी आमंत्रण दिया, साथ ही एक लंच बैठक में ऑस्ट्रेलिया के वित्त मंत्री मैथियास कॉर्मैन से भी मुलाकात की।
3) उत्तराखंड के देवस्थल पर स्थित आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान शोध संस्थान (एरीस) के दूरबीन को भारत एवं बेल्जियम के प्रधानमंत्री ने रिमोट का बटन दबाकर एक्टीवेट किया:
विवरण:Latest Current Affairs Today – 31st March 2016
उत्तराखंड के देवस्थल पर स्थित 3.6 मीटर व्यास की ऑप्टिकल दूरबीन को आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं बेल्जियम के प्रधानमंत्री श्री चार्ल्स मिशेल ने संयुक्त रूप से रिमोट का बटन दबाकर एक्टीवेट किया।
आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान शोध संस्थान (एरीज) का दूरबीन उत्तराखंड में लगाया गया है। इसे दोनों देशों के वैज्ञानिकों के सहयोग से तैयार किया गया है। इसका निर्माण भारत की “एरीज” एवं बेल्जियम की “एएमओएस” (Advanced Mechanical and Optical Systems) टीम के सहयोग से किया गया है।
यह एक आधुनिक विश्वस्तरीय दूरबीन है, जो कई सीमावर्ती वैज्ञानिक अनुप्रयोगों के अवलोकन में सहयोग प्रदान करेगी।
4) नए नियमों के तहत भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने किया उधारी-दरों का निर्धारण:
विवरण:Latest Current Affairs Today – 31st March 2016
गुरुवार को, देश के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने नए नियमों के तहत उधारी-दरों का निर्धारण किया है, जिसका मूल उद्देश्य नीतिगत-दरों में कटौती के संचरण में सुधार एवं बैंक-ऋणों को और अधिक प्रतिस्पर्धी बनाना  है।
बैंकरों का कहना है कि वे नई उधारी-दर संरचना, जो धन की सीमांत लागत पर आधारित है, से मार्जिन पर कोई महत्वपूर्ण प्रभाव की उम्मीद नहीं करते है। 1 अप्रैल से लागू सभी स्थानीय मुद्रा-ऋणों का मूल्यांकन नए नियमों के आधार पर किया जाना आवश्यक है।
वर्तमान में, ज्यादातर बैंक धन की औसत लागत के आधार पर उधारी-दरों का फैसला करते हैं।
भारतीय स्टेट बैंक की ब्याज दरें, 9.2 फीसदी (1 वर्ष की अवधि के ऋण के लिए), 9.3 फीसदी (दो वर्ष की अवधि के ऋण के लिए) एवं 9.35 फीसदी (तीन वर्ष की अवधि के ऋण के लिए) के दायरे में होंगी।
5) लीगो परियोजना के निर्माण के लिए भारत-अमेरिका करेंगे समझौता-ज्ञापन पर हस्ताक्षर:
विवरण:Latest Current Affairs Today – 31st March 2016
गुरुत्वाकर्षण लहरों की खोज के लगभग एक महीने बाद, देश में अत्याधुनिक ‘लेजर इंटरफेरोमीटर ग्रेविटेशनल वेब-आब्जर्वेटरी’ (LIGO) की स्थापना के लिए भारत और अमेरिका कल एक समझौता-ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर करेंगे।
संयुक्त राज्य अमेरिका के नेशनल साइंस फाउंडेशन (एनएसएफ) और भारत के परमाणु ऊर्जा विभाग एवं विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।
परमाणु ऊर्जा विभाग के सचिव शेखर बसु कल संयुक्त राज्य अमेरिका में समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे।
समझौता ज्ञापन के अनुसार इस परियोजना के बेहतर समन्वय के लिए एक संयुक्त निगरानी दल (JOG) का गठन किया जायेगा, जिसमें अमेरिका के नेशनल साइंस फाउंडेशन (एनएसएफ), भारत के परमाणु ऊर्जा विभाग (डीएई) एवं  विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के वैज्ञानिक शामिल होंगे।