नवीनतम करंट अफेयर्स 15 दिसम्बर 2015

0
74

समुद्र में संयुक्त कॉन्फ्रेंस कर पीएम मोदी ने रचा इतिहास

समुद्र में संयुक्त कॉन्फ्रेंस कर पीएम मोदी ने रचा इतिहास

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कोच्चि में जंगी जहाज आईएनएस विक्रमादित्य पर पहली बार समंदर में आयोजित संयुक्त कमांडर्स कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर नया इतिहास रच दिया है। इसमें सम्मेलन में पीएम के अलावा रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ एनएसए अजीत डोभाल ने भी हिस्सा लिया। यह पहला मौका है जब रक्षा मंत्री और तीनों सेनाओं के प्रमुखों सहित टॉप कमांडर्स का ये सम्मेलन राजधानी दिल्ली से बाहर समुद्र में हुआ। प्रधानमंत्री के स्वागत में नौसेना ने प्रधानमंत्री के सामने अपना शक्ति प्रदर्शन भी किया।
  • इस सम्मलेन में तीनों सेनाओं के प्रमुख देश की आंतरिक और बाहरी सुरक्षा की चुनौतियों और उनसे निपटने की तैयारियों के बारे में चर्चा हुई। प्रधानमंत्री सुबह 8 बजकर 50 मिनट पर आईएनएस गरुड़ से चले और आईएनएस विक्रमादित्य पर 9 बजकर 30 मिनट पर पहुचे। यहां से पीएम मोदी कोल्लम के लिए रवाना हो गए हैं।
  • आईएनएस विक्रमादित्य न सिर्फ एक जंगी जहाज है, बल्कि समंदर में तैरता छोटा-मोटा शहर भी है। संस्कृत शब्द विक्रमादित्य का अर्थ है-सूर्य की तरह प्रकाशवान और प्रतापी और दिलचस्प बात ये है कि आईएनएस विक्रमादित्य भी इतना प्रकाशवान है कि किसी शहर को अपनी रौशनी से जगमग कर सकता है।
  • 14 जून 2014 को आईएनएस विक्रमादित्य को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को समर्पित किया अब विक्रमादित्य नौसेना का मुख्य युद्धक पोत है। इसके रहते हिंदुस्तान की 7000 किलोमीटर लंबी समुद्री सरहद की तरफ दुश्मन आंख उठा कर भी नहीं देख सकता है। 30 नॉट यानी 56 किलोमीटर प्रति घंटे की रफतार से ये तेजी से युद्धक्षेत्र तक पहुंचता है। विक्रमादित्य 6 नली वाली AK-630 तोप से लैस है। इस पर 8 ब्रह्मोस मिसाइल भी हैं। जमीन से हवा पर मार करने वाली बराक मिसाइल इसे दुश्मन विमानों से बचाते हैं। लंबी दूरी के अत्याधुनिक एयर सर्विलेंस रडार दुश्मन के हमले से पहले ही इसे सावधान कर देते हैं।
  • आईएनएस विक्रमादित्य को 16 नवंबर 2013 को रूस के सेवमास शिपयार्ड में भारतीय नौसेना में कमीशन किया गया था। रूस ने डी-कमीशंड हो चुके एडमिरल गोर्शकोव नाम के अपने जहाज को भारतीय नौसेना की जरूरत के हिसाब से एक ताकतवर हथियार में बदल दिया है। आईएनएस विक्रमादित्य फिलहाल देश का सबसे बड़ा जंगी जहाज है, लिहाजा इसे चलाना किसी शहर को चलाने के बराबर है।
  • विक्रमादित्य एक बार में 45 दिन तक समंदर में रह सकता है, लेकिन अगर इसे समंदर के बीच टैंकर से ईंधन दिया जाता रहे तो ये जबतक चाहे तबतक समंदर में तैरता रहा सकता है। अपनी इसी विशालता और ताकतवर प्रणाली की वजह से आईएनएस विक्रमादित्य नौसेना के लिए सबसे खास है-और दुश्मन के लिए बुरा ख्वाब है।

पीएम मोदी ने कोल्लम में पूर्व मुख्यमंत्री आर शंकर की प्रतिमा का अनावरण किया

पीएम मोदी ने कोल्लम में पूर्व मुख्यमंत्री आर शंकर की प्रतिमा का अनावरण

 

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के कोल्लम में स्थित एसएन कॉलेज में पूर्व मुख्यमंत्री आर शंकर की प्रतिमा का अनावरण किया। पीएम मोदी ने पूर्व सीएम के महान कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा, कि केरल के लोग उन्हें हमेशा याद रखेंगे ।
  • पीएम मोदी ने बताया कि आर शंकर ऐसे व्यक्ति थे जो हमेशा श्री नारायण गुरु द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलते थे। निधन के बाद भी वे सालों तक लोगों के दिलों में जिंदा हैं। कुछ व्यवहारिक नेता समझौतावादी हो जाते हैं, लेकिन उन्होंने कभी भी नारायण गुरु की राह नही छोड़ी ।
  • गरीबी, समाज के उपेक्षित वर्ग का वह हिस्सा मैंने अपने जीवन में अनुभव किया है। इसके बारे में मुझे किसी ने बताया नहीं है । यदि किसी ने हमें कुछ दिया है तो वह व्यक्ति शिक्षा की राह में हमारे लिए सबकुछ है। मैं अपने ह्रदय से एसएनडीपी कार्यकर्ताओं से आग्रह करता हूं कि वे ज्यादा से ज्यादा लोगोंं को शिक्षित करें।एसएनडीपी ने मुझे श्री आर शंकर की तरह एक महान व्यक्ति की प्रतिमा का अनावरण करने का अवसर दिया जिससे मुझे बहुत खुशी हुई है। लोग बहुत से पदों पर सालों काम करते हैं लेकिन याद नहीं किये जाते। श्री आर शंकर ने लगभग 2 वर्षों के लिए मुख्यमंत्री के रूप में कार्य किया, और आज तक प्यार से याद किये जाते हैं।

 

राजस्थान स्मार्ट सिटी प्रस्ताव पेश करने वाला भारत का पहला राज्य बना

राजस्थान स्मार्ट सिटी प्रस्ताव पेश करने वाला भारत का पहला राज्य बना

  • केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, राजस्थान स्मार्ट सिटी प्रस्ताव पेश करने वाला भारत का पहला राज्य है, जिसने अगले पांच वर्षों के दौरान राजस्था‍न की चार स्मार्ट सिटी पर 6457 करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव मंत्रालय के पास भेजा।अधिसूचना के अनुसार, अब तक कुल 7 राज्यों की ओर से 15 स्मार्ट सिटी प्रस्ताव शहरी विकास मंत्रालय को प्राप्त हुये हैं।
  • स्मा‍र्ट सिटी के रूप में अजमेर, जयपुर, कोटा और उदयपुर को विकसित करने के लिए अगले पांच वर्षों के दौरान कुल मिलाकर 6,457 करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव है।
  • कुल निवेश में जयपुर के लिए 2,403 करोड़ रुपये, कोटा के लिए 1,493 करोड़ रुपये, अजमेर के लिए 1,300 करोड़ रुपये और उदयपुर के लिए 1,221 करोड़ रुपये का निवेश शामिल है।
  • कोटा के निकट एक ग्रीनफील्ड शहर विकसित किया जाएगा, वहीं दूसरी ओर शेष तीन शहर रेट्रोफिटिंग क्षेत्र (कुछ नया जोड़ना) आधारित स्मार्ट सिटी विकास योजनायें क्रियान्वित करेंगे।
  • सभी चारों शहर समस्त सिटी के लिए समाधान लागू करेंगे, जो प्रौद्योगिकी आधारित होंगे।  जयपुर से जुड़ी स्मार्ट सिटी योजना के तहत 600 एकड़ क्षेत्र में रेट्रोफिटिंग का काम किया जाएगा, जिसमें सतत गतिशीलता वाला गलियारा, स्मार्ट नागरिक बुनियादी सुविधायें और विरासत और पर्यटन को बढ़ावा देना शामिल है, जिन पर 1583 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है. 600 एकड़ के समूचे क्षेत्र में बड़ी चौपड़ एवं छोटी चौपड़ के बीच के पुराने शहर के साथ-साथ अल्बर्ट म्यूजियम भी शामिल है।
  • अजमेर में, रेट्रोफिटिंग का काम अन्ना सागर झील के उत्तर और पश्चिम भागों में 1,334 एकड़ से भी ज्यादा के क्षेत्र में किया जाएगा. इसके तहत बुनियादी ढांचे को दुरुस्त किया जाएगा और हरित इमारतों का निर्माण किया जाएगा. इस पर 925 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है।
  • उदयपुर से जुड़े स्मार्ट सिटी प्रस्ताव के तहत 880 करोड़ रुपये का निवेश 828 एकड़ क्षेत्र की रेट्रोफिटिंग में किया जाएगा. इसके तहत सीवरेज एवं विद्युत आपूर्ति व्यवस्था को बेहतर बनाया जाएगा।
  • कोटा हेतु 1045 करोड़ रुपये की लागत से 395 एकड़ क्षेत्र में ग्रीनफील्ड के विस्तारीकरण का प्रस्ताव रखा है. इसके अलावा समस्त शहर के लिए बनाये गये प्रस्ताव के तहत कचरे का ठोस प्रबंधन करने के साथ-साथ स्मार्ट कॉरीडोर का निर्माण किया जाएगा, जिन पर कुल मिलाकर 438 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है।

अभी बंद नहीं होंगे लिखे हुए नोट :रघुराम राजन

रघुराम राजन को भरोसा, संसद में पारित होगा जीएसटी विधेयक

  • इन दिनों सोशल मीडिया पर लिखे हुए नोटों को लेकर चल रही अफवाह की खबरों पर आरबीआइ ने स्पष्ट किया है कि यह नोट वैध बने रहेंगे। रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने एक ऑडियो संदेश के माध्यम से कहा कि ‘व्हॉट्सएप पर यह ट्रैंड कर रहा है कि इस साल के अंत तक ऐसे नोटो को स्वीकारा नहीं जाएगा जिन पर कुछ लिखा हुआ है, मैं आपको बताना चाहता हूं कि ये बात पुरी तरह गलत है, यह नोट वैध मुद्रा बने रहेंगे।
  • राजन ने कहा कि आरबीआई की पॉलिसी है कि वह खराब या विकृत नोट को नए नोट से बदलता है। इसका यह मतलब बिल्कुल नहीं है कि पुराना नोट गैरकानूनी है और यह नहीं चलेगा। यह नोट कहीं भी चलाए जा सकते हैं। इस तरह के नोट की स्वीकृति के लिए कोई अंतिम तारीख तय नहीं है।
  • गौरतलब है कि सोशल साइट पर बताया जा रहा था कि जनवरी 2016 से विकृत या खराब नोट का स्वीकार नहीं किया जाएगा। आरबीआई ने इसका खंडन किया है और कहा है कि सभी नोट कानूनी हैं।

खुदरा महंगाई दर में हुई बढ़ोतरी, अक्टूबर में 5 से बढ़कर नवंबर में हुई 5.41 फीसदी

खुदरा महंगाई दर में हुई बढ़ोतरी, अक्टू

  • नवंबर महीनें में महंगाई दर में थोक के बाद अब रिटेल में भी महंगाई देखने को मिल रही है। नवंबर में रिटेल महंगाई दर बढ़कर 41 फीसदी हो गई है जबकि अक्टूबर में रिटेल महंगाई दर 5 फीसदी पर थी।
    उधर, खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर भी बढ़ी है।
  • नवंबर में खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर बढ़कर 07 फीसदी हो गई है जबकि अक्टूबर में खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर 5.25 फीसदी थी।
  • जबकि, महीने दर महीने आधार पर नवंबर में ग्रामीण इलाकों की महंगाई दर 54 फीसदी से बढ़कर 5.95 फीसदी हो गई है। महीने दर महीने आधार पर नवंबर में शहरी इलाकों की महंगाई दर 4.28 फीसदी से बढ़कर 4.71 फीसदी हो गई है।
  • हालांकि, महीने दर महीने के आधार पर नवंबर में ईंधन, बिजली की महंगाई दर 32 फीसदी से मामूली घटकर 5.28 फीसदी रही है। महीने दर महीने आधार पर नवंबर में सब्जियों की महंगाई दर 2.42 फीसदी से बढ़कर 4 फीसदी हो गई है।
  • नवंबर में दूध की महंगाई दर 03 फीसदी रही है। नवंबर में दालों की महंगाई दर 46.08 फीसदी रही है। महीने दर महीने आधार पर नवंबर में कपड़े और जूते की महंगाई दर 5.62 फीसदी से बढ़कर 5.76 फीसदी हो गई है।

टेक महिंद्रा एवं महिंद्रा एंड महिंद्रा ने पिनिनफेरिना का अधिग्रहण किया

टेक महिंद्रा एवं महिंद्रा एंड महिंद्रा ने पिनिनफेरिना का अधिग्रहण किया

  • टेक महिंद्रा एवं महिंद्रा एंड महिंद्रा ने दिसंबर 2015 को इटली की ऑटोमोबाइल डिज़ाइन कंपनी पिनिनफेरिना के 76 प्रतिशत शेयर का अधिग्रहण किया।
  • महिंद्रा ग्रुप कंपनी ने पिनिनफेरिना का लगभग 165 मिलियन डॉलर में अधिग्रहण किया. इस अधिग्रहण का उद्देश्य स्पेशल पर्पज़ व्हीकल (एसपीवी) का निर्माण करना है. इस डील में टेक महिंद्रा का 60 प्रतिशत जबकि महिंद्रा एंड महिंद्रा की 40 प्रतिशत हिस्सेदारी है।
  • इस अधिग्रहण के पश्चात् भी पिनिनफेरिना स्वायत्त रूप से कार्य करती रहेगी. मिलान स्टॉक एक्सचेंज में पाओलो पिनिनफेरिना कंपनी के चेयरमैन के रूप में दर्ज हैं. इस समझौते से महिंद्रा विश्व की टॉप 50 ऑटोमोबाइल कम्पनियों में शामिल हो जायेगी।

पिनिनफेरिना

  •  फेरारी के तमाम मॉडलों की डिजाइनिंग पिनिनफेरिना कर चुकी है।
  • इसके अतिरिक्त पिनिनफेरिना ने फ़िएट, एल्फा रोमियो, बेंटली, बीएमडब्ल्यू एवं मसेरती को भी डिज़ाइन किया है।
  • इसकी स्थापना बतिस्ता पिनिनफेरिना ने गाड़ियों को डिज़ाइन करने के लिए 1930 में की थी।
  • वर्ष 1966 में उनकी मृत्यु के पश्चात् उनके बेटे सर्जियो एवं दामाद रेंजों कार्ली को इसका नियंत्रण प्राप्त हुआ।
  • महिंद्रा ग्रुप कम्पनी ने इससे पहले अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर दक्षिण कोरिया की एसयूवी निर्माता कम्पनी सैंगयोंग एवं फ़्रांस की स्कूटर निर्माता कम्पनी प्यूजियो का अधिग्रहण किया है।

पश्चिम बंगाल सरकार ने बप्पी लेहरी, कुमार सानू को लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार से पुरस्कृत किया

पश्चिम बंगाल सरकार ने बप्पी लेहरी, कुमार सानू को लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार से पुरस्कृत किया

  • पश्चिम बंगाल सरकार ने वरिष्ठ संगीतकार बप्पी लाहिड़ी और गायक कुमार सानू को 14 दिसंबर 2015 को लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार से पुरस्कृत किया. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता में आयोजित संगीत सम्मान पुरस्कार समारोह में दोनों को यह पुरस्कार प्रदान किया।
  • उपरोक्त के साथ ही साथ बॉलीवुड संगीतकार शांतनु मोइत्रा को संगीत महासमान और गायक नचिकेता एवं अजय चक्रवर्ती को विशेष संगीत समान से नवाजा गया. इस अवसर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि लोक कलाकारों को अब सरकारी विज्ञापन का काम दिया जायेगा ताकि उन्हें काम मिल सके. उन्होंने 23 दिसंबर 2015 से लाल दिघी में एक लोक संस्कृति उत्सव मनाए जाने की भी घोषणा की ।

एशियन टूर मेरिट जीतने वाले चौथे भारतीय गोल्फर बने लाहिड़ी

एशियन टूर मेरिट जीतने वाले चौथे भारतीय गोल्फर बने लाहिड़ी

  • भारत के शीर्ष गोल्फ खिलाड़ी अनिर्बान लाहिड़ी को सोमवार को एशियन टूर ऑर्डर ऑफ मेरिट खिताब प्रदान किया गया और एशिया का सर्वोच्च गोल्फ अवार्ड जीतने वाले वह चौथे भारतीय बन गए। लाहिड़ी 1,139,084 डॉलर की इनामी राशि अर्जित कर 2015 की एशियन टूर ऑर्डर ऑफ मेरिट में शीर्ष पर रहे।
  • एशियन टूर कार्यक्रम में इस वर्ष अब सिर्फ एक टूर्नामेंट शेष रह गया है और 41 वर्षीय लाहिड़ी शीर्ष पर इतनी बड़ी बढ़त हासिल कर चुके हैं कि उन्हें पहले ही यह अवार्ड प्रदान कर दिया गया।
  • दूसरे स्थान पर मौजूद आस्ट्रेलिया के स्कॉट हेंड की 2015 में अर्जित इनामी राशि 491,631 डॉलर है, जो लाहिड़ी के आधे से भी कम है।
  • लाहिड़ी के लिए यह वर्ष शानदार रहा। उन्होंने एशियन टूर में दो खिताब जीते, विश्व रैंकिंग में शीर्ष-50 में जगह बनाने में सफल रहे, पीजीए चैम्पियनशिप में शीर्ष-5 में रहे, प्रेसिडेंट्स कप में खेलने वाले पहले भारतीय बने और अमेरिकी पीजीए टूर कार्ड हासिल करने में भी सफल रहे।
  • अपनी सफलताओं से खुश लाहिड़ी ने कहा कि वह एशियन गोल्फ दिग्गजों, जैसे थाईलैंड के थोंगचाई जैदी और थावोर्न विराटचैंट और हमवतन जीव मिल्खा सिंह, अर्जुन अटवाल तथा ज्योति रंधावा में शामिल होकर वह खुद को सम्मानित महसूस कर रहे हैं।
  • लाहिड़ी 2013 में मेरिट में तीसरे, जबकि 2014 में दूसरे स्थान पर रहे थे।
  • लाहिड़ी ने एक वक्तव्य जारी कर कहा, “मैं इसे हमेशा हासिल करना चाहता था। मैं बेहद खुश हूं और थोंगचाई, जीव, अर्जुन, थावोर्न और ज्योति जैसे दिग्गजों के समतुल्य आकर गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। उनके साथ एक ही श्रेणी में शामिल होना खुशी की बात है और खास मायने रखता है।”
  • लाहिड़ी ने इस वर्ष एशियन टूर में मेबैंक मलेशिया ओपन और हीरो इंडिया ओपन खिताब अपने नाम किए और पांच टूर्नामेंटों में वह शीर्ष-10 में रहे।